Just another WordPress site

बजरंग मुनि

Posted By: kaashindia on January 29, 2020 in Uncategorized - Comments: No Comments »

ऐसी भी खबरें प्रकाशित हो रही हैं की भारत में मुस्लिम सांप्रदायिकता को उभारने के लिए सांप्रदायिक तत्वों ने बड़ी मात्रा में धन खर्च किया 120 करोड़ की बात सामने आ रही है उसमें यह भी सामने आ रहा है कि काफी पैसा बड़े-बड़े अधिवक्ताओं को दिया गया और इन वकीलों ने न्यायालय में केस लड़ने के साथ-साथ राजनीतिक आधार पर भी इस प्रकार के उपद्रव कार्यों की मदद की अर्थात उन्होंने पार्टी के आधार पर भी समाज में भ्रम फैला कर उन्हें मदद की यह बहुत चिंता का विषय है कि कुछ लोग राजनीतिक सत्ता में भी रहते हैं और वकालत भी करते हैं बड़े-बड़े धन प्राप्त करते हैं व्यापार बनाते हैं और राजनीतिक सत्ता का दुरुपयोग करते हैं इस प्रकार के लोगों की समाज में निंदा होनी चाहिए अब तो ऐसा लग रहा है कि राजनीति एक प्रकार का व्यापार बन गई है वकील भी उसमें लाभ उठाते हैं अन्य लोग तो उसका लाभ उठाते ही हैं लेकिन जो जो बड़े-बड़े नाम सामने आ रहे हैं उन नामों को देखकर बहुत आश्चर्य होता है कि राजनीति किधर जा रही है राजनीतिक दलों को यह बात साफ करने चाहिए कि इस प्रकार धन प्राप्त करने वाले लोगों का उनके दल से भविष्य में कोई राजनीतिक संबंध नहीं रहेगा

Leave a Reply

Polls

एन्डरसन को फंसी दी जनि चाहिए या नहीं ?

  •  
  •  
  •  

View Results

क्या हमारे पास वोट देने के अलावा ऐसा कोई अधिकार है जिन्हें संसद हमसे छीन सकती है?

संसद अपनी आवश्यकता अनुसार जब चाहे हमारे सारे अधिकार छीन सकती है जैसा की इन्द्रा जी ने आपातकाल लगा कर किया था|

Recent Comments

Categories

Copyright - All Rights Reserved / Developed By Weblinto Technologies Thanks to Tulika & Ujjwal